बुधवार, 16 नवंबर 2016

गांधी उद्यान के तरण ताल में मुशायरे का आयोजन। Post- 2

अपनी शायरी कहते इक़बाल अशहर।

अपनी शायरी कहते इक़बाल अशहर।

अपनी शायरी कहते कलीम समर।

अपनी शायरी कहते अकील नोमानी।

अपनी शायरी कहते अकील नोमानी। 

अपनी शायरी कहते जौहर कानपुरी।

अपनी शायरी कहते जौहर कानपुरी।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें